संपत्ति के लिए बेटे ने की पिता की हत्या, इलाज के दौरान तोड़ा दम

देवरिया जिले के सलेमपुर कोतवाली थाना क्षेत्र के ठेंगवल दूबे गांव की है। यहां संपत्ति बंटवारे को लेकर बेटे ने अपने पुत्र के साथ मिलकर पिता पर हमला बोल दिया। गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

मई 21, 2023 - 13:17
 0  9
संपत्ति के लिए बेटे ने की पिता की हत्या, इलाज के दौरान तोड़ा दम
संपत्ति के लिए बेटे ने की पिता की हत्या

भागलपुर, देवरिया जिले के सलेमपुर कोतवाली थाना क्षेत्र के ठेंगवल दूबे गांव की है। यहां संपत्ति बंटवारे को लेकर बेटे ने अपने पुत्र के साथ मिलकर पिता पर हमला बोल दिया। गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।
देवरिया, जागरण संवाददाता। संपत्ति बंटवारे को लेकर बेटे ने कमरे में सो रहे बुजुर्ग पिता पर गड़ासा (धारदार हथियार) से हमला कर दिया। परिवार के अन्य सदस्यों ने गंभीर हालत में बुजुर्ग को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर देख डॉक्टर ने महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। यहां इलाज के दौरान शनिवार की सुबह बुजुर्ग की मौत हो गई। इसकी खबर मिलते ही परिवार में चीख पुकार मच गई। आरोपित घर छोड़कर फरार है। पुलिस आरोपित के बेटे को कोतवाली में लाकर पूछताछ कर रही है।

बताते चलें कि सलेमपुर कोतवाली थाना क्षेत्र के ठेंगवल दूबे गांव के रहने वाले 80 वर्षीय हरिबंश दूबे पुत्र स्व. जमुना दूबे शुक्रवार की रात भोजन करने के बाद अपने कमरे में सोए थे। इसी बीच उनका दूसरे नंबर का बेटा मनोज दूबे अपने बेटे अमन दूबे के साथ मिलकर हरिबंश दूबे के शरीर पर गड़ासा से हमला कर दिया। जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गए। शोर मचाने पर परिवार के अन्य सदस्यों को देख आरोपित वहां से भाग निकला।
आनन-फानन परिवार के लोग घायल बुजुर्ग को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने प्राथमिक इलाज के बाद कोतवाली पुलिस को सूचना दी। बुजुर्ग की हालत गंभीर देख मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मृतक बुजुर्ग के पौत्र अमन दूबे को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।
स्वजन के मुताबिक, मृतक के तीन बेटे हैं। तीनों एक ही मकान में रहते हैं। संपत्ति को लेकर कुछ दिनों से परिवार में विवाद चल रहा था। इसी दौरान बुजुर्ग पिता ने अपनी संपत्ति से 10 कट्ठा जमीन किसी को बेच दिए थे। जिसके पैसे को लेकर और दरार पड़ गई। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है। कोतवाल गोपाल पांडेय ने बताया कि जांच की जा रही है। अभी तहरीर नहीं मिली है। परिवार के लोगों का कहना है कि संपत्ति के लिए उन पर हमला किया गया है।

आपकी प्रतिक्रिया क्या है?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow