बाबासाहब के जयंती पर कार्यक्रम का आयोजन

test

Publish Date:15-04-2019 06:15:04pm (IST)

नियामतुल्लाह बस्ती

सिद्धार्थ नगर चेतिया - बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के 128 वी जयंती के पावन अवसर पर होरिलापुर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया बाबा साहब के जीवन वृतांत को बताया गया जिसमें गीत के माध्यम से लोगों को उनके जीवन के बारे में जानकारी दी गई साथ ही शोषितो के उत्थान के लिए उनके द्वारा किए गए संघर्षो के बारे में बताया गया।

मंच के माध्यम से कलाकारों ने बताया की  बाबा साहब ने कहा था शिक्षा वह शेरनी का दूध है जो पिएगा वहीं अपने अधिकार के लिए लड़ेगा वक्ताओं ने कहा जो शिक्षा से दूर है वही मजबूर है।

बुद्धि का विकास मानव के अस्तित्व का अंतिम लक्ष्य होना चाहिए डॉक्टर भीमराव अंबेडकर भारतीय इतिहास के इकलौते व्यक्ति हैं जिन्होंने दलितों वंचितों और महिलाओं को सामाजिक अधिकार दिलाने के लिए अपना संपूर्ण जीवन समर्पित कर दिया वक्ताओं ने बाबा साहब के संदेश को याद दिलाते हुए कहा कि बाबा साहब अंबेडकर ने कहा था मैं रातभर इसलिए जाता हूं क्योंकि मेरा समाज सो रहा है कलाकारों ने बताया कि बाबा साहब ने दलित आंदोलन को प्रेरित किया और दलितों के साथ हो रहे सामाजिक भेदभाव के विरुद्ध अभियान चलाया 

श्रमिकों और महिलाओं के अधिकार के लिए लड़ाई लड़ी। उन्होंने ना केवल दलितों पिछड़ों महिलाओं बल्कि सभी वर्ग के विकास के लिए अपना जीवन समर्पित किया

 कलाकारों ने कहा कि जीवन लंबा होने की वजह महान होना चाहिए हम सबसे पहले और अंत में भारतीय हैं।

 वक्ताओं ने  भाग्य पर नहीं अपने शक्ति पर विश्वास रखने का संदेश दिया कार्यक्रम के दौरान अतिथियों ने डॉक्टर भीमराव अंबेडकर और भगवान बुद्ध के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी इस दौरान भीम आर्मी भारत एकता मिशन जिला यूनिट  सिद्धार्थनगर के रामधनी गौतम जिला अध्यक्ष, आर.के. निगम जिला प्रवक्ता, अजय कुमार गौतम मीडिया प्रभारी आशुतोष कुमार आदि.

POLL
For these reasons BJP looted in Rajasthan, Madhya Pradesh and Chhattisgarh