बिहार में बड़ा रेल हादसा: सीमांचल ट्रैन की कोच हुई बेपटरी जिसमे 6 लोगों की मौत व कई लोग घायल...

Crime Reporter

Publish Date: (IST)




हाजीपुर, 3 फरवरी
संवाददाता हर्ष राज की रिपोर्ट

बिहार के वैशाली जिले में रेल की पटरी में दरार के कारण रविवार को सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पटरी से अचानक उतर गयी।  जिसमें 6 लोगों की मौत हो गयी। हादसे में लगभग 40 घायलों की संख्या बतायी जा रही है।जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है. घायलों में कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है। रेलवे और पुलिस के अधिकारियों ने यह बताया है कि 12487 जोगबनी-आनंद विहार सीमांचल एक्सप्रेस दिल्ली आ रही थी।  किशनगंज जिले के जोगबनी से यह एक्सप्रेस रवाना हुई और अहले करीब 4.54 बजे वैशाली जिले के सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के पास उसके 8 डिब्बे पटरी से उतर गयी।

स्थानीय लोगों का यह कहना है कि सुबह 4 बजे के लगभग बहुत ही जोरदार आवाज अचानक से आए और तभी वे घटनास्थल की ओर दौड़े पड़े। डिब्बे का शीशा तोड़कर यात्रियों को सुरक्षित निकालने के लिए कोशिश किये लेकिन फिर भी कुछ यात्रियों को अस्थानीय लोग नही बचा सके।  रेलवे ने पहले कहा था कि हादसे में 7 लोगों की मौत हुई है. लेकिन बाद में विभाग ने स्पष्टीकरण जारी कर मृतकों की संख्या 6 बतायी. पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया, ‘‘वैशाली जिले के अस्पतालों के साथ संवादहीनता के कारण यह गड़बड़ी हुई है। लेकिन अस्पताल में एक मृत व्यक्ति की गिनती हादसे में मारे गए लोगों के साथ हो गयी थी लेकिन बाद में सत्यापन के दौरान, यह मालूम चला एक कि उसमे से एक व्यक्ति ट्रेन का यात्री नहीं कर रहा था। 

वैशाली के सिविल सर्जन डॉक्टर इंद्रदेव रंजन ने बताया कि हादसे में मारे गए लोगों की पहचान इन्द्रा देवी (65),  सुदर्शन दास (60),इल्चा देवी (60),शाहिदा खातून (21),  अंसार आलम (45), शमसुद्दीन आलम (25) और  के रूप में हुई है। सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने यह बताया कि हादसे में लगभग 40 लोग घायल हुए हैं। लेकिन इनमें से दो को गंभीर रूप से चोट आई है और अन्य को हल्की चोटें आई हैं। घायलों को आसपास के अस्पतालों में ले जाया गया और तुरंत ही में उन्हें भर्ती कराया गया जहां से डॉक्टरों ने गंभीर रूप से घायलों को मुजफ्फरपुर और पटना के PMCH रेफर कर दिया।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दुर्घटना में मारे गये लोगों के लिए शोक व्यक्त करते हुए यह अनुग्रह और सहायता राशि की घोषणा भी की है। गोयल के कार्यालय ने ट्वीट किया है कि दुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजन को 5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। वहीं गंभीर रूप से घायलों में से प्रत्येक को एक-एक लाख रुपये, जबकि कम जख्मी लोगों को 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। सभी घायलों के इलाज का खर्च रेलवे वाहन करेगी। 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हादसे में मरने वालों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त जताया और साथ ही घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मरने वालों के परिवार को 4 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये देकर मदद करने का एलान भी किया।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्रेन दुर्घटना में लोगों की मौत पर दुख जताते हुए कहा, ‘‘सीमांचल एक्सप्रेस की बोगियों के पटरी से उतरने के कारण हुई लोगों की मौत से बहुत दुखी हूं. मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.' उन्होंने ट्वीट किया कि रेलवे, एनडीआरएफ और स्थानीय प्रशासन हरसंभव मदद कर रहे हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्रेन दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से पीड़ित परिवारों को हर प्रकार की सहायता मुहैया कराने की अपील की. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, ‘‘मैं बिहार में हुई ट्रेन दुर्घटना से बेहद दुखी हूं. मैं इस दुर्घटना से पीड़ित परिवारों के प्रति गहरा दुख व्यक्त करता हूं और मेरी सवेदनाएं उनके साथ हैं.'

पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि सोनपुर रेल मंडल के अंतर्गत बरौनी- बछवारा-हाजीपुर सिंगल रेल लाइन से मेहनार रोड स्टेशन से रविवार को अहले प्रात: 3 बजकर 54 मिनट पर गुजरने के बाद जोगबनी-आनंद विहार सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन के 11 डिब्बे सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के समीप 3 बजकर 58 मिनट पर पटरी से उतर गयी।  कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह हादसा पटरी में आयी दरार के कारण हुआ है. इसकी जांच सीआरएस (पूर्वी क्षेत्र) लतीफ खान करेंगे। 

उन्होंने बताया कि हादसे में सुरक्षित बचे 12 डिब्बों सहित ट्रेन को सुबह नौ बजकर 52 मिनट पर रवाना कर दिया गया। इसमें आगे और 11 डिब्बे जोड़े जाएंगे। उन्होंने बताया कि सभी यात्रियों को चाय, भोजन और पीने का पानी उपलब्ध कराया गया है। जो लोग ट्रेन से आगे की यात्रा पूरी नहीं करना चाहते उनके पैसे वापस करने का भी इंतजाम भी कर दिया गया है। 

कुमार ने बताया कि इस हादसे को लेकर तीन हेल्पलाइन नंबर : 
सोनपुर 06158221645 
हाजीपुर 06224272230 
बरौनी 06279232222 
 पटना 06122202290 , 06122202291 , 06122202292 एवं 06122213234 जारी किये गये हैं।

फिलहाल इस रूट पर सभी पैसेंजर गाड़ियों को कैंसल कर दिया गया है. कई गाड़ियों का रूट भी बदला गया 

POLL
For these reasons BJP looted in Rajasthan, Madhya Pradesh and Chhattisgarh