तहसीलदार की कार्यप्रणाली से आक्रोशित अधिवक्ताओं ने तहसील में किया हंगामा:

test

Publish Date:14-03-2019 04:47:10pm (IST)

तहसील परिसर में हुई नारेबाजी,तहसीलदार का हुआ घेराव: तहसीलदार का मजाक करना भारी: मछलीशहर ।तहसीलदार कौशलेश कुमार मिश्रा की कार्य प्रणाली से क्षुब्ध अधिवक्ताओं ने गुरुवार को तहसील में जमकर हंगामा किया ।जुलूस निकालकर तहसील परिसर में नारेबाजी किया और तहसीलदार का घेराव किया ।तहसीलदार का मजाक करना भी भारी पड़ गया ।वरिष्ठ अधिवक्ताओं के बीच बचाव के बाद मामला शान्त हुआ । बताया जाता है कि तहसील अधिवक्ता सतीश कुमार ने आरोप लगाया कि एक प्रकरण में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सत्य प्रकाश के कार्यालय में गये थे। वहां पहले से बैठे तहसीलदार मुझे अपशब्द कहे ।वहीं अधिवक्ता प्रेम बिहारी यादव का आरोप था कि आये दिन तहसीलदार अधिवक्ताओं को अपशब्द कहते रहते हैं।तहसीलदार के व्यवहार से क्षुब्ध अधिवक्ताओं ने संघ के पदाधिकारियों से लिखित शिकायत किया तो अधिवक्ता आक्रोशित हो गये और तहसील में नारेबाजी कर सभी न्यायालयों का काम रोकवा दिया ।ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के अनुपस्थित रहने पर अधिवक्ताओं ने तहसीलदार का घेराव किया और स्पष्टीकरण मांगा।तहसीलदार का कहना था कि आरोप निराधार है और सभी बातें ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में हुई थी ।हमने हमेशा अधिवक्ताओं को सम्मान दिया है। वैसे आये दिन अधिवक्ताओं से हंसी मजाक भी होती रहती है।वरिष्ठ अधिवक्ताओं व संघ पदाधिकारियों की मध्यस्थता में भविष्य में इसकी पुर्नरावृत्ति न हो की शर्त पर मामला शान्त हुआ ।इस अवसर पर अध्यक्ष सुरेश बहादुर सिंह,महामंत्री संजीव चौधरी,वरिष्ठ अधिवक्ता केदार नाथ यादव,राजेन्द्र प्रसाद सिंह,जगदंबा प्रसाद मिश्रा,प्रेम चन्द्र विश्वकर्मा,महेन्द्र कुमार सिंह,बाबुराम,रघुनाथ प्रसाद,जितेन्द्र श्रीवास्तव,अशोक त्रिपाठी,ललित तिवारी आदि उपस्थित थे ।

POLL
For these reasons BJP looted in Rajasthan, Madhya Pradesh and Chhattisgarh