लाइव ब्रेकिंग न्यूज़: 

Neemuch news  ग्राम पंचायत दारू में टीकाकरण को लेकर युवाओं में दिखा उत्साह 110 लोगो ने लगवाया टीका   |  Neemuch news  ग्राम पंचायत दारू में टीकाकरण को लेकर युवाओं में दिखा उत्साह 110 लोगो ने लगवाया टीका   |  पुलिस ने दो शातिर चोरों को चोरी के सामान के साथ किया गिरफ्तार   |  पुलिस ने दो शातिर चोरों को चोरी के सामान के साथ किया गिरफ्तार   |  के.एल. डीम्ड यूनिवर्सिटी के उद्यमी छात्रों ने वायरलेस चार्जिंग वाली अपनी तरह की पहली ई-बाइक तैयार की   |  बुक माय शो ने सामुदायिक टीकाकरण अभियान के पहले चरण के तहत भारत में 1,45,000 लोगों तक पहुंचाई वैक्सीन   |  महिला ऐच्छिक ब्यूरो द्वारा 1 जोड़े को मिलाया गया   |  महिला ऐच्छिक ब्यूरो द्वारा 1 जोड़े को मिलाया गया   |  अभियोग अज्ञात अभियुक्त के विरूद्ध पंजीकृत कर विवेचना की जा रही है   |  अभियोग अज्ञात अभियुक्त के विरूद्ध पंजीकृत कर विवेचना की जा रही है
Thursday, June 24, 2021
HomeStateभैसहटा ग्रामसभा में बना अम्बेडकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उपेक्षा का शिकार, जिम्मेदार...

भैसहटा ग्रामसभा में बना अम्बेडकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उपेक्षा का शिकार, जिम्मेदार मौन

Category:

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

भैसहटा ग्रामसभा में बना अम्बेडकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उपेक्षा का शिकार, जिम्मेदार मौन

भदोही। कई सरकारें आईं और गई फिर भी नहीं बदली ग्रामीणों की किस्मत और स्वास्थ्य व्यवस्था जिसके वजह से लोग आज भी काफी परेशान है। लेकिन जिले के न तो नेता और न ही अधिकारी इन सब चीजों पर ध्यान देते है। जिसकी वजह से लाखों रूपये खर्च होने के बाद भी जनता को उचित लाभ नही मिल पा रहा है। और जनता परेशान है।
एक ऐसा ही मामला औराई क्षेत्र के ग्रामसभा भैसहटा के राजस्व गांव पूरेनोहरी मे करोड़ो की सम्पत्ति से बनकर तैयार हुआ अम्बेडकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जो बारह वर्ष का वनवास और एक वर्ष का अज्ञात वास काटने के बाद भी आज तक अपने वास्तविक रूप में नहीं आ सका। जब स्वास्थ्य केंद्र बन रहा था तो कई ग्राम पंचायत के लोगो को एक उम्मीद जगी थी कि अब चिकित्सीय उपचार आसानी से होगा। गरीब एक रुपए की पर्ची पर अपना उपचार आसानी से करवा सकेगा लेकिन किसको पता था कि आम जनता के आंसुओ को पोछने वाली सरकार अभी तक नहीं आई। आज चिकित्सीय उपचार की सुविधा उपलब्ध होती तो इस वैश्विक महामारी में संजीवनी का काम करता बता दे की कई ग्राम पंचायत के लोगो को आज भी लगभग पंद्रह किमी दूर जाना पड़ता है। सरकार और प्रशासन के लोग ध्यान दिए होते तो यहां की स्थिति कुछ और होती। लेकिन जिम्मेदार लोगो की लापरवाही से स्वास्थ्य केन्द्र उपेक्षित पडा है। स्थानीय लोग प्रशासन से इस पर ध्यान देने की मांग की है।

- Advertisement -

ट्रेंडिंग न्यूज़:

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here