राज्य चुने

HomeStateMumbaiAntilia Case Latest News in Hindi  एनआईए ने किए दो और आरोपी...

Antilia Case Latest News in Hindi  एनआईए ने किए दो और आरोपी को गिरफ्तार

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

Antilia Case Latest News in Hindi  एनआईए ने किए दो और आरोपी को गिरफ्तार

- Advertisement -

अंजली माल
महाराष्ट्र मुंबई :

प्रसिद्ध उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने के मामले में दो और अहम आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों आरोपियों का नाम संतोष शेलार और आनंद जाधव है। दोनों आरोपियों को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने दोनों आरोपियों को 21 जून तक NIA की कस्टडी में भेज दिया है। आनंद जाधव को महाराष्ट्र के लातूर से गिरफ्तार किया गया है। आनंद की भूमिका जिलेटिन रखने के मामले में बताई जा रही है। इन दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी से मामला जल्द ही सुलझने की उम्मीदें बढ़ गई हैं। मुकेश अंबानी के दक्षिणी मुंबई स्थित घर ‘एंटीलिया’ के बाहर 25 फरवरी को एक विस्फोटक से भरी कार बरामद हुई थी। इस स्कॉर्पियो कार में जिलेटिन की 20 छड़ें रखी हुई थीं।

Antilia Case Latest News in Hindi :  NIA कर रही एंटीलिया केस और हिरेन हत्या केस की जांच :

शुरू में इसकी जांच मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच कर रही थी। क्राइम ब्रांच का इंचार्ज सचिन वाजे इस प्रकरण की जांच कर रहा था। लेकिन बाद में वाजे पर सवाल उठे तो मामला एनआईए को सौंप दिया गया। बाद में सचिन वाजे ना सिर्फ आरोपी पाया गया बल्कि इस पूरी घटना का मुख्य सूत्रधार के रूप में सामने आया। इस बीच उस कार के मालिक मनसुख हिरेन की संदेहास्पद मौत हो गई। इस मामले की जांच पहले एटीएस कर रही थी फिर ये मामला भी एनआईए कौ सौंप दिया गया।

- Advertisement -

एंटीलिया विस्फोटक केस और हिरेन हत्या केस में अब तक कई हैरान कर देने वाले खुलासे हुए हैं। NIA के मुताबिक इन दोनों मामलों में सचिन वाजे ही मुख्य सूत्रधार है। विस्फोटक से भरी जो कार अंबानी के घर के बाहर बरामद हुई, वो कार मनसुख हिरेन की थी। घटना से एक हफ्ते पहले मनसुख हिरेन ने कार चोरी की शिकायत दर्ज करवाई थी। फिर मनसुख हिरेन की हत्या हो गई। उनका शव 5 मार्च को मुंब्रा की खाड़ी में संदेहास्पद स्थिति में बरामद हुआ।घटना से पहले सचिन वाजे और मनसुख हिरेन की मुलाकात के सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए। हिरेन की हत्या को पहले आत्महत्या दिखाने की कोशिश की गई, जो नाकाम हुई। यह पूरी साजिश सचिन वाजे खुद रच रहा था। मनसुख हिरेन ने सचिन वाजे के दबाव में कार चोरी की झूठी शिकायत दर्ज करवाई थी, ताकि इस कार का इस्तेमाल अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने में किया जा सके। ऐसे कई सबूत इन दोनों केस के संबंध में एक-एक कर सामने आ रहे हैं। मंगलवार को दो लोगों की गिरफ्तारियों के बाद उम्मीद है कि इन दोनों मामलों की परतें खुलेंगी और सच सामने आएगा।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

हमारे साथ जुड़े:

500FansLike
0FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here