राज्य चुने

HomeStateMaharashtraमध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे ने मनाया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे ने मनाया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

गणेश पाण्डेय । मुंबई 

- Advertisement -

मध्य रेलवे महाप्रबंधक आलोक कंसल और तनुजा कंसल, अध्यक्षा, मध्य रेल महिला कल्याण संगठन गत 21 जुन को वेबलिंक के माध्यम से योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित किया।

आलोक कंसल ने कहा कि “अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की अवधारणा की कल्पना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रधान ने वर्ष 2014 में की थी। योग आपके शरीर, मन और श्वसन का ख्याल रखता है। यह सांस लेने के व्यायाम के माध्यम से शरीर को मन और श्वसन के साथ सामंजस्य बिठाता है। योग हमारे शारीरिक मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य का विकास करता है, जबकि अन्य प्रकार के व्यायाम केवल शारीरिक स्वास्थ्य प्रदान करते हैं। योग वह अभ्यास है जो आपको जीवन में अन हेल्थी प्रक्टिस से छुटकारा पाने में मदद करेगा। योग आपका फिटनेस गुरु है।

इस अवसर पर तनुजा कंसल, मध्य रेल महिला कल्याण संगठन की अध्यक्षा ने कहा कि “महामारी के दौरान जीवन शैली की आदत के रूप में, योग को अपनाना सबसे अच्छी बात है। यह न केवल हमें एक मजबूत शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य प्रणाली बनाने में मदद करता है, बल्कि शरीर, मन और आत्मा की देखभाल करने के लिए सबसे अच्छे तत्व के रूप में श्वास और ध्यान के साथ भी जोड़ता है। योग के अपने फायदे हैं, जिसका अभ्यास सभी उम्र के लोग कर सकते हैं। इस दौरान जीवित रहने के लिए मानसिक स्वास्थ्य महत्वपूर्ण है।
मुंबई, भुसावल, नागपुर, पुणे और सोलापुर मंडल के मंडल रेल प्रबंधकों ने अपनी-अपनी पत्नियों के साथ अपने-अपने मुख्यालय में योग सत्र का आयोजन किया. इसी तरह के योग सत्र प्रमुख रेलवे स्टेशनों, कारखानों अस्पतालों, लॉबी, आरपीएफ बैरक आदि में आयोजित किए गए। योग दिवस से संबंधित वेबकार्ड सोशल मीडिया में पोस्ट किए गए। योग दिवस पर 30 सेकंड का जिंगल मुंबई, जलगांव, सोलापुर, नागपुर और पुणे में एफएम चैनलों पर प्रसारित किया गया। मध्य रेल के रेलवे स्टेशनों पर सेंट्रल अनाउंसिंग सिस्टम और पब्लिक एड्रेस सिस्टम पर जिंगल का प्रसारण किया गया। मध्य रेल के रेलवे स्कूलों में निबंध प्रतियोगिता और स्लोगन प्रतियोगिता भी आयोजित की जा रही हैं।

- Advertisement -

Central Railway and Western Railway celebrated International Yoga Day

पश्चिम रेलवे के मुबंई सेन्ट्रल “रेल निकुंज” मे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन 

पश्चिम रेलवे पर सोमवार, 21 जून, 2021 को 7 वाँ अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस पूरे उत्‍साह और उल्‍लास के साथ मनाया गया। मस्तिष्‍क और शरीर के अनुशासन और आनंद के उच्‍च स्‍तर तक ले जाने वाली इस विधा को सभी छह मंडलों, कारखाना यूनिटों, रेलवे कॉलोनियों और रेलवे प्रतिष्‍ठानों इत्‍यादि सहित प्रधान कार्यालय में रेल कर्मियों द्वारा उत्‍साह के साथ अभ्‍यास किया गया। मुंबई में मुंबई सेंट्रल स्थित रेल निकुंज में योग सत्र का आयोजन किया गया इसमे मुख्‍य अतिथि पश्चिम रेलवे के आलोक कंसल थे एवं पश्चिम रेलवे महिला कल्‍याण संगठन की अध्‍यक्षा तनुजा कंसल विशिष्‍ट अतिथि थीं।
आलोक कंसल महाप्रबंधक सहित अपर महाप्रबंधक, प्रमुख विभागाध्‍यक्षों तथा वरिष्‍ठ रेल अधिकारियों के साथ कोविड के सभी प्रोटोकॉलों का पालन करते हुए विभिन्‍न योगासन किये अन्‍य अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने वर्चुअल लिंक के ज़रिये इस प्रोग्राम में भाग लिया।
कंसल ने अपने प्रेरणादायक सम्‍बोधन के ज़रिये अधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रेरित किया तथा स्‍वयं योगासनों का अभ्‍यास करके उनके लिए एक उदाहरण पेश किया। अपने सम्‍बोधन में उन्‍होंने कहा कि योग हमारा फिटनेस गुरु है तथा यह हमारे शरीर और मस्तिष्‍क में सामंजस्‍य स्‍थापित करता है। उन्‍होंने बताया कि हमें योगाभ्‍यास करना चाहिए, जिससे हमारा चित्‍त शांत होता है और यह आज की व्‍यस्‍ततम जीवन शैली में बहुत जरूरी भी है। उन्‍होंने कहा कि अपनी जिंदगी में हमें नियमित तौर पर योगाभ्‍यास करना चाहिए। इस अवसर पर बोलते हुए तनुजा कंसल ने कहा कि योग विशेषकर इस महामारी के दौर में हमारे मस्‍तिष्‍क को शांत तथा शरीर को स्‍वस्‍थ रखने के लिए बेहद जरूरी है। कंसल ने रेलकर्मियों के लाभ के लिए अहमदाबाद में योग एवं ध्‍यान केंद्र तथा भावनगर में योग एवं नैचुरोपैथी में ‘टेली कंसलटेशन फैसिलिटी’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर कंसल ने एक सूचनाप्रद ई-बुकलेट ‘सेल्‍फ हिलिंग थ्रू योगा’ का विमोचन किया। बुकलेट में योगाभ्‍यास को नियमित रूप से अपनाकर अपने शरीर को फिट रख एक स्‍वस्‍थ जीवन जीने के बारे में बताया गया है। इसमें योगाभ्‍यास के लिए आवश्‍यक निर्देशों और विभिन्‍न योग मुद्राओं और आसनों के बारे में विस्‍तार से बताया गया है। जगजीवन राम अस्‍पताल की योग सहायक डॉ. जैनसी सेकर द्वारा भारत में योग का इतिहास एवं परम्‍परा तथा हमारे दैनिक जीवन में इसका महत्‍व विषय पर प्रे‍जेंटेशन को प्रस्‍तुत किया गया। डॉ. जैनसी और ग्रुप द्वारा कॉमन योगा प्रोटोकॉल का प्रदर्शन किया गया। रेल अधिकारियों, कर्मचारियों एवं उनके परिवारों के लिए बेस्‍ट योग मुद्रा प्रतियोगिता आयोजित की गई तथा इस कार्यक्रम में इस प्रतियोगिता के विजेताओं की घोषणा की गई। स्‍टेशनों पर उद्घोषणा प्रणाली पर योग पर बने प्रेरणादायक ऑडियो स्‍पॉट को प्‍ले किया गया। योग को प्रमोट करने वाले रोचक एवं आकर्षक आर्टवर्क को बनाकर पश्चिम रेलवे के सोशल मीडिया हैंडलों पर पोस्‍ट किया गया।
इस योग अवसर पर योग प्रशिक्षकों के समूह “हील स्‍टेशन” ने एक अनूठी पहल के तहत बोरीवली से अंधरी तक पश्चिम रेलवे की लोकल ट्रेन में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए यात्रियों में जागरूकता हेतु विभिन्‍न योगाभ्‍यास किये। ग्रुप ने बुकिंग स्‍टाफ, रिजर्वेशन स्‍टाफ, टिकट चेकरों, रेल सुरक्षा बल कर्मियों तथा मुंबई सेंट्रल स्थित मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए योगा सत्र का आयोजन किया। मुंबई-दिल्‍ली राजधानी एक्‍सप्रेस के यात्रियों के लिए भी प्‍लेटफॉर्म पर योगा सत्र का आयोजन किया गया। चर्चगेट स्थित मोटरमैन लॉबी तथा मुंबई सेंट्रल स्थित रनिंग रूम में पश्चिम रेलवे के मोटरमैनों एवं गार्डों ने योगाभ्‍यास किया।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

हमारे साथ जुड़े:

500FansLike
0FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here