लाइव ब्रेकिंग न्यूज़: 

Neemuch news  ग्राम पंचायत दारू में टीकाकरण को लेकर युवाओं में दिखा उत्साह 110 लोगो ने लगवाया टीका   |  Neemuch news  ग्राम पंचायत दारू में टीकाकरण को लेकर युवाओं में दिखा उत्साह 110 लोगो ने लगवाया टीका   |  पुलिस ने दो शातिर चोरों को चोरी के सामान के साथ किया गिरफ्तार   |  पुलिस ने दो शातिर चोरों को चोरी के सामान के साथ किया गिरफ्तार   |  के.एल. डीम्ड यूनिवर्सिटी के उद्यमी छात्रों ने वायरलेस चार्जिंग वाली अपनी तरह की पहली ई-बाइक तैयार की   |  बुक माय शो ने सामुदायिक टीकाकरण अभियान के पहले चरण के तहत भारत में 1,45,000 लोगों तक पहुंचाई वैक्सीन   |  महिला ऐच्छिक ब्यूरो द्वारा 1 जोड़े को मिलाया गया   |  महिला ऐच्छिक ब्यूरो द्वारा 1 जोड़े को मिलाया गया   |  अभियोग अज्ञात अभियुक्त के विरूद्ध पंजीकृत कर विवेचना की जा रही है   |  अभियोग अज्ञात अभियुक्त के विरूद्ध पंजीकृत कर विवेचना की जा रही है
Thursday, June 24, 2021
HomeStateमुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आशा सेविकों से अपील कोरोना मुक्त गांव के...

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आशा सेविकों से अपील कोरोना मुक्त गांव के लिए करें जागरुकता

Category:

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आशा सेविकों से अपील कोरोना मुक्त गांव के लिए करें जागरुकता

कोरोना काल में मुख्यमंत्री ने आशा सेविक को उनके कार्यों के लिए दी श्रद्धांजलि

रिपोर्ट : के . रवि ( दादा ) ,,

- Advertisement -

मुंबई : अनुमान है कि बच्चों को कोरोना की संभावित तीसरी लहर का खतरा है . इस लहर को रोकने में ‘आशा’ कार्यकर्ताओं की भूमिका अहम है . अभिभावकों को न घबराने का आश्वासन देते हुए राज्याभिषेक मुक्त गांव के लिए लोगों में जागरूकता पैदा की जाए . मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आशा सेविकों को कोरोना काल में उनके काम के लिए आभार व्यक्त करते हुए उनसे गांव की बसावट की जिम्मेदारी लेने और कोरोना से मुक्ति के लिए उनका मार्गदर्शन करने की अपील की.
बाल रोग टास्क फोर्स के सदस्यों ने आशा सेविकन के साथ बच्चों में कोरोना संक्रमण और आशा सेविकों की जिम्मेदारियों पर बातचीत की . मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे विजन सिस्टम के माध्यम से आयोजित इस वेबिनार में मार्गदर्शन देते हुए बोल रहे थे . मुख्य सचिव सीताराम कुंटे, स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. बाल रोग विशेषज्ञों की टास्क फोर्स के अध्यक्ष डॉ. रामास्वामी . सुहास प्रभु, डॉ. विजय येओलाले, डॉ. समीर दलवई ऑनलाइन कांफ्रेंस में आरती किनिकर के साथ राज्य भर से करीब 70,000 आशा सेविकाओं ने भाग लिया था .

संक्रामक रोगों की सूचना तत्काल प्रशासन को दें
बाल रोग कार्य बल की सिफारिशों को लागू करते हुए मुख्यमंत्री ने आशा सेवकों से अपील की कि कोरोना के अलावा कोई भी लक्षण पाए जाने पर तत्काल प्रशासन को सूचित करें. आशा सेविक को चाहिए कि वह बच्चों की देखभाल में माता-पिता का मार्गदर्शन करें और उन्हें आश्वस्त करें ताकि वे डरें नहीं . मुख्यमंत्री ने नागरिकों से अपील की कि बच्चों को कोरोना संक्रमण से बचाने की मेरी जिम्मेदारी परिवार के सदस्यों के माध्यम से ही मेरे परिवार को बताएं .

कुपोषण से होने वाली बाल मृत्यु दर को रोकने के लिए सावधानी बरतनी चाहिए

- Advertisement -

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के अलावा कुपोषण का भी संकट है और इसका समाधान करते हुए इस बात का ध्यान रखा जाए कि कुपोषण से बाल मृत्यु न हो. उन्होंने कहा कि गांव की झुग्गी बस्तियों को अपने हाथ में लें और राज्याभिषेक के लिए उनका मार्गदर्शन करें .

‘आशा’ शब्द से मेल खाने का काम
मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में महाराष्ट्र की सफलता की प्रशंसा करते हुए कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत किया जा रहा है और इन सुविधाओं की जड़ें मजबूत करने का काम किया जा रहा है. उद्धव ठाकरे ने कहा . आशा ताई वह काम कर रही हैं जो हमारे अंदर ‘आशा’ शब्द के बनने के तरीके के अनुकूल है . इसे ऐसे ही रखें,

एक संभावित तीसरी लहर को रोकने में अष्टाई की अहम भूमिका

मुख्यमंत्री ने कहा, “आशा, आंगनबाडी कार्यकर्ता प्रशासन की पाठक हैं और आप अपने स्वास्थ्य और परिवार पर ध्यान दिए बिना ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाएं दे रही हैं . इसके लिए मैं नमन करता हूं . आशा है कि आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की शिकायतों और अपेक्षाओं का समुचित समाधान किया गया है। आपका कर्ज नहीं भुलाया जाएगा . मुख्यमंत्री ने आशाताई से अपील की कि वह उन्हें अपने संकट से निकलने का रास्ता खोजने के लिए कुछ समय दें . मुख्यमंत्री ने कहा कि विशेषज्ञों के मुताबिक, बच्चों में कोरोना की संभावित तीसरी लहर का खतरा महसूस होगा और इसे रोकने में आशा ताई की भूमिका अहम है.
इस समय टास्क फोर्स में डॉ. प्रभु, डॉ. येवले, डॉ. किणीकर, डॉ. सरल भाषा में दलवई ने कोरोना से बचाव व इलाज, बच्चों के लिए पौष्टिक आहार, मानसिक रोग पर मार्गदर्शन दिया.
इस समय मुरबाड, पटोंडा जिले की रोहिणी भोंडीवाले , नंदुरबार से साधना पिंपले , भंडारा से भूमिका बंजारी, हिंगोली से सुनीता कुरवाडे ने अपने विचार व्यक्त किए .

ट्रेंडिंग न्यूज़:

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here