राज्य चुने

HomeStateसीएम योगी ने कोरोना के खतरे से किया आगाह, बोले-जैसे कपड़ों पहनते...

सीएम योगी ने कोरोना के खतरे से किया आगाह, बोले-जैसे कपड़ों पहनते हैं वैसे मास्‍क को आदत में करें शामिल

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लोगों को कोरोना से बचने के लिए सतर्क करते हुए कहा कि अभी कोरोना नियंत्रित हुआ है, यह खत्म नहीं हुआ है। सतर्कता एवं सावधानी बरत कर हम इससे बच सकते हैं। जैसे रोज कपड़े पहनते हैं, उसी तरह मास्क भी जरूर लगाएं। मास्क कोरोना के साथ ही कई तरह के संक्रमण से आपकी रक्षा करेगा। इसे आदत में डालें। घर के अंदर भी मास्क लगा सकें तो बहुत अच्छा है लेकिन बाहर निकलते समय मास्क जरूर लगाएं। दूसरे लोगों को भी इसके लिए जागरूक करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों, निगरानी समितियों के साथ-साथ सभी के सहयोग से कोरोना पर नियंत्रण पाया जा सका है।

- Advertisement -

मुख्यमंत्री बुधवार को योगीराज बाबा गंभीरनाथ प्रेक्षागृह में आयोजित विभिन्न परियोजनाओं के शिलान्यास और लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों की करीब 80 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इनमें 39.53 करोड़ रुपये की 48 योजनाओं का शिलान्यास जबकि 40.71 करोड़ रुपये लागत की 75 परियोजनाओं का लोकार्पण शामिल है। उन्होंने कहा कि कोरोना से निराश्रित हुई महिलाओं के लिए वृहद योजना बनाई जा रही है। शिविर लगाकर उनके विधवा पेंशन के फार्म भरवाए जाएंगे और पेंशन दिलाई जाएगी। इन महिलाओं को आंगनबाड़ी, आशा कार्यकर्ता, रसोइया एवं सरकार की अन्य योजनाओं के तहत समायोजित कर आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।

सीएम योगी ने कोरोना के खतरे से किया आगाह

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना से कई लोगों ने अपने स्वजन को खोया है। सरकार हर असहाय और निराश्रित के साथ खड़ी है। निराश्रित हुए बच्चों के लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की घोषणा की गई है। इसके तहत चार हजार रुपये प्रतिमाह उनके भरण-पोषण के लिए दिए जाएंगे। जल्द ही इन बच्चों के विधिक अभिभावक के खाते में पैसा भेज दिया जाएगा। कई महिलाएं भी कोरोना के कारण निराश्रित हुई हैं, सरकार उनके लिए भी योजना बना रही है। उन्हें विधवा पेंशन उपलब्ध कराया जाएगा और उनकी योग्यता के अनुसार उन्हें रोजगार भी उपलब्ध कराएंगे, जिससे वे आत्मनिर्भर बन सकें।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

हमारे साथ जुड़े:

500FansLike
0FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here