राज्य चुने

HomeStateMaharashtracorona third wave in india in hindi जल्द ही तीसरी लहर आने...

corona third wave in india in hindi जल्द ही तीसरी लहर आने की आशंका, महाराष्ट्र में तीन जिलों में पाया गया डेल्टा प्लस वेरिएंट 

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

अंजली माली
महाराष्ट्र मुंबई : 20 जून 2021

- Advertisement -

corona third wave : दुनिया में तबाही मचाने वाला कोरोना वायरस का एक नया वैरिएंट सामने आया है। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर लगभग थम सी गई है, लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। महाराष्ट्र में कोरोना के नए वेरिएंट दिखे हैं। इसे डेल्टा प्लस का नाम दिया गया है। कोरोना का ये नया रूप डेल्टा वेरिएंट में ही म्यूटेशन के बाद दिखा है।
इस नए वेरिएंट के सैंपल फिलहाल महाराष्ट्र के तीन क्षेत्र- रत्नागीरी, नवी मुंबई और पालघर से मिले। फिलहाल इसे वेरिएंट ऑफ इंटरेस्ट की प्रकार में रखा गया है, यानी इसमें ये पता लगाने की कोशिश की जाएगी कि किस तरह से ये अपना रूप बदल रहा है। राहत की बात ये है कि फिलहाल इसे वेरिएंट ऑफ कंसर्न में नहीं रखा गया है, यानी तुरंत चिंता की बात नहीं है।

corona ka third wave kab aaega : (कोरोना की थर्ड वेब कब आएगी)  

जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र में कोरोना के केस लगातार घट रहे हैं। लेकिन ध्यान देने की बात ये है कि कोल्हापुर, सिंधुदुर्ग, रायगढ़, रत्नागिरी, सतारा और सांगली सहित पश्चिमी महाराष्ट्र के जिलों में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। यहां पॉजिटिविटी रेट भी काफी ज्यादा है। चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान निदेशालय (डीएमईआर) के निदेशक डॉ टी पी लहाने ने कहा,हमें नवी मुंबई पालघर और रत्नागिरी में डेल्टा-प्लस मिला है। उसके बाद, हमने और सैंपल भेजे हैं। लेकिन अंतिम रिपोर्ट का इंतजार है। डेल्टा प्लस के 7 में से कम से कम 5 वेरिएंट रत्नागिरी से मिले हैं। यहां 10 जून तक पॉजिटिविटी रेट 13.7 फीसदी थी। जबकि इस दौरान महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी रेट सिर्फ 5.7% थी। यहां एक्टिव मरीज़ों की संख्या 6553 है। रत्नागिरी के सिविल सर्जन संघमित्रा गवाडे के मुताबिक यहां लगातार कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे हैं। साथ ही गांवों को भी सील किया जा रहा है।
डेल्टा प्सल का पहला मामला मध्य प्रदेश में मिला था। अगर भारत में कोरोना की तीसरी लहर आती है तो फिर इसके लिए डेल्टा प्लस वेरिएंट ही ज़िम्मेदार होगा। साथ ही ये भी कहा गया है कि इस वेरिएंट से एक्टिव केस 8 से 10 लाख तक जा सकते हैं, जिसमें से 10 प्रतिशत संख्या बच्चों की हो सकती है। जानकारी के अनुसार कोरोना का ये नया वेरिएंट इम्यून सिस्टम को भी चकमा दे सकता है।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

हमारे साथ जुड़े:

500FansLike
0FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here