राज्य चुने

HomeStateराष्ट्रीय लोक अदालत आगामी 10 जुलाई को होगा आयोजित

राष्ट्रीय लोक अदालत आगामी 10 जुलाई को होगा आयोजित

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

देवरिया | राष्ट्रीय लोक अदालत आगामी 10 जुलाई को आयोजित होगा। इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य वादों का त्वरित निस्तारण कर पक्षकारों/वादकारियों को न्याय उपलब्ध कराना है। आयोजन की मंशा को सफल बनाने के लिए सभी अधिकारी पूर्ण मनोयोग से कार्य करते हुए अधिक से अधिक वादों का निस्तारण सुनिश्चित कराएं, ताकि इसके माध्यम से लोगो को त्वरित न्याय मिल सके।

- Advertisement -

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के नोडल अधिकारी लोकेश कुमार तथा सचिव आरिफ निसामुद्दीन खान ने उक्त अपेक्षायें करते हुए कहा कि जुडे सभी अधिकारी अपने विभाग से अधिक से अधिक मामलों को अभी से चिन्हित करें, ताकि लोक अदालत के दिन उसका सुगमतापूर्वक निस्तारण किया जा सके तथा तहसील स्तर भी बैठकों को आयोजित कर मामलें को चिन्हित करने की कार्यवाही अभी से की जाए। राजस्व से संबंधित मामले, श्रम विभाग के मामले, विद्युत विभाग के मामले, बैंक से संबंधित ऋण मामले, दुर्घटना बीमा से संबंधित मामले को अधिक से अधिक संख्या में निस्तारण करने हेतु अभी से तैयारी सुनिश्चित कर लें। सभी विभाग अत्यधिक मामलों के निस्तारण के लक्ष्य को निर्धारित करें एवं उसको समस्त व्यक्तियों के प्रयास से क्रियान्वित करें ताकि आम जनमानस को मुकदमें एवं वादों से निजात दिलाया जा सके। इस लोक अदालत के माध्यम से सुलहनीय वादो का आपसी सहमति के आधार पर उसका निस्तारण किया जाता है। वादकारी एवं पक्षकारों के मामले निस्तारित होते है, जिससे उनका समय, भागदौड आदि के बचत के साथ ही उन्हे त्वरित न्याय मिल जाता है। इसलिये अधिक से अधिक वादो को प्रस्तुत करें और उसका समाधान सुनिश्चित कराएं।
सिविल जज सिनियर डिविजन शिवेन्द्र मिश्रा ने लोक अदालत में अधिक से अधिक वादो का निस्तारण कराए जाने में सभी विभागो के समन्वय पर बल दिया।
राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक संख्या में मोटर दुर्घटना एवं दुर्घटना बीमा प्रतिकर वादों, बैंको के ऋण आदि मामलों को निस्तारित कराए जाने पर बल दिया। समस्त संबंधित विभागों को नोटिसों का तामिला समय से कराने हेतु कहा गया है। बैंकों एवं बीमा के प्रबंधकगण व अन्य अधिकारियों को एक साथ आगे आने का आह्वान भी किया गया है। बैंक ऋण, दुर्घटना बीमा, श्रम विभाग, विद्युत विभाग, राजस्व विभाग, पारिवारिक, अन्य कोई भी सुलहनीय मामले या छोटे-मोटे संबंधित मामलों का निस्तारण किया जायेगा।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

हमारे साथ जुड़े:

500FansLike
0FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here