लाइव ब्रेकिंग न्यूज़: 

RPF NEWS :आरपीएफ सिपाही और ट्रेन गार्ड ने बचायी यात्री की जान   |  RPF NEWS :आरपीएफ सिपाही और ट्रेन गार्ड ने बचायी यात्री की जान   |  Kachhona Hardoi News : दो पक्षो में जमकर चली लाठियां, दो लोग गंभीर रूप से घायल   |  Kachhona Hardoi News : दो पक्षो में जमकर चली लाठियां, दो लोग गंभीर रूप से घायल   |  Maudhaganj Kachhouna News माधौगंज कार्यकर्ताओं के द्वारा फूल मालाओं से प्रदेश अध्यक्ष जी का भव्य स्वागत किया गया   |  Maudhaganj Kachhouna News माधौगंज कार्यकर्ताओं के द्वारा फूल मालाओं से प्रदेश अध्यक्ष जी का भव्य स्वागत किया गया   |  Hardoi News : क्रिकेट टूर्नामेंट का हुआ समापन, अंतिम मुकाबले में मुसलमानाबाद टीम ने अपने विपक्षी टीम करलवां को 10 विकेट से हरा खिताब अपने नाम किया   |  Hardoi News : क्रिकेट टूर्नामेंट का हुआ समापन, अंतिम मुकाबले में मुसलमानाबाद टीम ने अपने विपक्षी टीम करलवां को 10 विकेट से हरा खिताब अपने नाम किया   |  Film Prithviraj का नाम बदले बिना फिल्म स्क्रीनपर दिखाना नामुमकिन: दिलीप राजपूत   |  Film Prithviraj का नाम बदले बिना फिल्म स्क्रीनपर दिखाना नामुमकिन: दिलीप राजपूत
Monday, June 14, 2021

राज्य चुने

HomeStateमुख्यमंत्री की घोषणा हुई हवा- हवाई,संग्रहालय के लिए अभी तक धन अवमुक्त...

मुख्यमंत्री की घोषणा हुई हवा- हवाई,संग्रहालय के लिए अभी तक धन अवमुक्त नहीं – रामबिलास प्रजापति

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

मुख्यमंत्री की घोषणा हुई हवा- हवाई,संग्रहालय के लिए अभी तक धन अवमुक्त नहीं – रामबिलास प्रजापति

देवरिया । अखिल भारतीय प्रजापति कुम्भकार महासंघ उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल अध्यक्ष रामबिलास प्रजापति ने कहा है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने गतवर्ष देवरिया जनपद मुख्यालय पर आयोजित अपने एक कार्यक्रम में 159 परियोजनाओं का शिलान्यास किया।उसी दौरान उन्होंने जनता की मांग को दृष्टिगत रखते हुए 1942 कीअगस्त क्रांति के अमरशहीद रामचंद्र विद्यार्थी की स्मृति में आठ करोड़ रुपए से मुख्यालय पर एक संग्रहालय बनाने की घोषणा की थी किन्तु मुख्यमंत्री की यह घोषणा हवा हवाई साबित हुई और संग्रहालय के निर्माण हेतु एक कौड़ी भी अवमुक्त नहीं हुआ ।
उन्होंने कहा कि रामचंद्र विद्यार्थी ने १३ वर्ष की अल्पायु में 14 अगस्त 1942 को देवरिया कचहरी में मजिस्ट्रेट के कार्यालय पर लगे यूनियन जैक को उतारकर तिरंगा झण्डा फहराया और उसी वक्त अंग्रेजों की गोलियों से शहीद हो गए थे। उन्होंने आक्रोश ब्यक्त किया कि तमाम राजनीतिक नेताओं के नाम पर जनपद मुख्यालय पर कयी संस्थाओं का नाम रखा गया किन्तु रामचंद्र विद्यार्थी की उपेक्षा की गई । प्रजापति ने मुख्यमंत्री का ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा है कि उनके द्वारा घोषित आठ करोड़ रुपए तत्काल अवमुक्त किये जांय और जिस स्थान पर वे शहीद हुए थे उस भवन को स्मारक घोषित कर वहां संग्रहालय का निर्माण करायेगा।

- Advertisement -

ट्रेंडिंग न्यूज़:

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here