राज्य चुने

HomeStateMaharashtraMaharashtra railway news in Hindi : बाढ़ राहत दल ने लोगो की...

Maharashtra railway news in Hindi : बाढ़ राहत दल ने लोगो की बचाई जान

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

maharashtra railway news in hindi

- Advertisement -

• रेलवे बाढ़ राहत दल ने मानसून के दौरान ट्रेनों में यात्रियों के बचाव और राहत के लिए मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया।

•आलोक कंसल महाप्रबंधक वेस्टर्न और सेन्ट्रल रेलवे अरुण कुमार आरपीएफ डीजी ने मानसून के दौरान रेलवे बाढ़ राहत दल की नाव और आउटबोर्ड मोटर के उपयोग के लिए एसओपी का विमोचन किया।

रेलवे मदद के लिए सदैव तत्पर : अरुण कुमार, डीजी आरपीएफ

- Advertisement -

आलोक कंसल, महाप्रबंधक मध्य और पश्चिम रेलवे, अरुण कुमार, महानिदेशक, आरपीएफ, रेलवे बोर्ड, नई दिल्ली की उपस्थिति में रेलवे की मानसून तैयारियों के बारे में आज तलाव पाली लेक, ठाणे में मध्य और पश्चिम रेलवे के मुंबई उपनगरीय खंडों पर की गई प्री-मानसून कार्रवाई के बारे में जानकारी देते हुए कहा

कि  कुर्ला-विद्याविहार, सैंडहर्स्ट रोड और मस्जिद, बांद्रा, वसई-नालासोपारा में माइक्रो-टनलिंग विधि द्वारा 7 अतिरिक्त,जलमार्ग,वडाला-रावली, पनवेल-कर्जत, बदलापुर- वांगणी और कुर्ला-तिलकनगर में आरसीसी बॉक्स इंसर्शन के माध्यम से 4 अतिरिक्त जलमार्ग पिछले मानसून के बाढ़ के स्थानों के लिए अनुकूलित समाधान जैसे पटरियों के साथ नालियों का निर्माण, पानी के प्रवेश को रोकने के लिए दीवारों को बनाए रखना, लगभग 4 लाख घन मीटर मलवा (मक) हटाने आदि कार्य किये। 

उन्होंने कहा कि इन बुनियादी ढांचे के अपग्रेडेशन ने पिछले कुछ वर्षों में उपनगरीय परिचालन में सुधार किया है हाल ही में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने मानसून की तैयारियों की समीक्षा की और एक समग्र और दीर्घकालिक योजना बनाने पर जोर दिया उन्होंने मानसून की बारिश से निपटने में रेलवे और स्थानीय नगर निगमों की तकनीकी और सिविल कार्य पहल की दक्षता का अध्ययन करने के लिए रेलवे को आईआईटी मुंबई जैसे संस्थानों के साथ साझेदारी करने का भी सुझाव दिया था।

रेलवे मदद के लिए सदैव तत्पर : अरुण कुमार, डीजी आरपीएफ

आरपीएफ के डीजी अरुण कुमार ने संबोधित करते हुए कहा कि उपनगरीय रेलवे मुंबई की जीवन रेखा है। ऐसी आपात स्थिति में हमारा पहला काम यह  सुनिश्चित करना है कि यात्री घबरायें नहीं रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल ने मानसून की तैयारियों की समीक्षा करते हुए मुंबई में रेलवे के बाढ़ राहत दल से प्रभावित हुए, यह बल कर्मियों के साथ नावों का उपयोग करता है। ऐसी आपात स्थितियों के लिए टीमों को एनडीआरएफ द्वारा प्रशिक्षित किया गया है।

उन्होंने यह भी कहा कि रेलवे की टीमें ऐसी किसी भी आपात घटना के लिए सदैव तैयार रहतीं हैं और वे मदद के लिए सबसे पहले पहुंचती हैं और बचाव और राहत कार्य करती हैं।

आलोक कंसल और अरुण कुमार ने रेलवे बाढ़ राहत दल द्वारा नाव और आउटबोर्ड मोटर के उपयोग के लिए एसओपी विमाेचन किया है। उन्होंने तलाव पाली लेक में आरएफआरटी द्वारा आयोजित मॉक ड्रिल का निरीक्षण किया जिसमें जलभराव वाले इलाके में रुकी हुई एक ट्रेन में यात्रियों के बचाव और राहत का प्रदर्शन किया गया था। उन्होंने आरएफआरटी कर्मियों के साथ भी बातचीत की और उनका उत्साहवर्धन किया।

इस अवसर पर अजय सादानी प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त मध्य रेल, पी सी सिन्हा प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त पश्चिम रेलवे, शलभ गोयल, मंडल रेल प्रबंधक, मुंबई मंडल और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
इस मॉक ड्रिल के दौरान सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया गया।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

हमारे साथ जुड़े:

500FansLike
0FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here