लाइव ब्रेकिंग न्यूज़: 

Bhopal Pollution News- महा- टीकाकरण अभियान कचरा निष्पादन पर निगरानी रखेगा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड   |  Bhopal Pollution News- महा- टीकाकरण अभियान कचरा निष्पादन पर निगरानी रखेगा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड   |  Bhopal News- वैक्सीनेशन करायें, स्वयं और परिवार को कोरोना से बचायें- मंत्री डंग   |  Bhopal News- वैक्सीनेशन करायें, स्वयं और परिवार को कोरोना से बचायें- मंत्री डंग   |  deoria corona news today in hindi शनिवार व रविवार को साप्ताहिक बंदी के साथ कोरोना कर्फ्यू रहेगा लागू   |  deoria corona news today in hindi शनिवार व रविवार को साप्ताहिक बंदी के साथ कोरोना कर्फ्यू रहेगा लागू   |  विरार कारशेड में रक्तदान शिविर का आयोजन   |  विरार कारशेड में रक्तदान शिविर का आयोजन   |  Manasa News : ग्राम नलवा में बाबा रामदेव की मूर्ति स्थापना के अवसर पर 11 कुंडी यज्ञ की हुई पूर्णाहुति   |  Manasa News : ग्राम नलवा में बाबा रामदेव की मूर्ति स्थापना के अवसर पर 11 कुंडी यज्ञ की हुई पूर्णाहुति
Monday, June 21, 2021

राज्य चुने

HomeStateNeemuch news कांग्रेस नैत्री स्नेहलता विजय शर्मा ने की शासन से मांग...

Neemuch news कांग्रेस नैत्री स्नेहलता विजय शर्मा ने की शासन से मांग कोविड से मरने वालों के परिवार को शासकीय योजना का मिले लाभ

Category:

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

Neemuch news कांग्रेस नैत्री स्नेहलता विजय शर्मा ने की शासन से मांग कोविड से मरने वालों के परिवार को शासकीय योजना का मिले लाभ

संवाददाता राकेश शर्मा मनासा (मध्यप्रदेश)
नीमच। जिले में हुयी कोरोना से मृत्यु दर को जिले मे बिते 48 दिनो मे दाह संस्कार 425 के करीबन हुये लेकिन जिला चिकीत्सालय सिर्फ 49 मौतो का आंकडा बता रहे हे प्रशासन द्वारा शासकीय चिकित्सालय मे हुयी मृत्यु दर ही शासकीय रिकार्ड मे अंकित हुयी है वो भी आधी अधुरी जब 48 दिन मे 425 दाह संस्कार हुये हे तो वो रिकार्ड क्यो नही बताया गया जवाब देही जवाब दे निजी चिकित्सालय मे कोविड मरीजो ने चिकीत्सा लाभ लीया और सैकडों लोगो की जान इस कोरोना की वजह से गई हे लेकिन वो रिकार्ड में अंकीत नही किया जा रहा कोविड केयर सेंटर और होम आईशुलेशन मे भर्ती रहे मरीज का कोरोना संक्रमण से निधन हुआ तो उन्हें सोची समझी रणनिती के तहत मृत्यु प्रमाण पत्र या चिकीत्सालय से कोरोना से मृत्यु का कोई प्रमाण पत्र, दस्तावेज नही दिया गया। अधिकांश केस मे टाॅयफाइड या अन्य बिमारी से मृत्यु होना बताया जा रहा ताकि दिंवगत के परिजनो को आर्थीक और शासकीय लाभ नही मिल सके एक और तो प्रदेश के मुखीया शिवराज सिंह बडी बडी घोषणाऐं कर रहे हे और परिजनो को एक लाख रुपये देना तथा कोई शासकीय कर्मचारी था तो उसका पांच लाख का बीमा उसके परिजनो को देने की घोषणा लेकिन ये योजनाएं भी महज फाईलो मे रहकर धुल ही खाएगी यदी सही जानकारी प्रशासन ने नही ली तो साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री ने 1 मार्च के बाद वालो को कोरोना से मरने वालो के परिवार जन को एक लाख रुपये देने की घोषणा की लेकिन कई कर्मचारी एवं अनेक लोग ऐसे हे जिनके परिजनो की मृत्यु 1 मार्च से पहले कोविड के चलते हुयी हे उन्हें भी शासकीय योजना का लाभ प्राप्त होना चाहीये सरकार के इस तारीखों के फेर मे वो लोग क्यो वंछीत रहे शासकीय चिकित्सालय ट्रामा सेंटर की स्थिती किसी से छुपी हुयी नही हे खुद भाजपा विधायक माधव मारु ने भी आपदा प्रबंधन मे इस बात का जिक्र किया था कि ग्रामीण जन जिला चिकीत्सालय को मोंतो का अस्पताल समझते हे ऐसे मे अधीकांश ग्रामीण जनो ने अपने परिवार जन को बचाने के लिये निजी चिकित्सालय मे इलाज करवाया कुछ मरीजों ने कोरोना से जंग जीत ली कुछ दुर्भाग्यवश मृत्यु को प्राप्त हुये जीनको शासकीय रिकार्ड मे कोई जगह नही मील पायी ऐसे मे उनके परिवार जनो को शासकीय लाभ नही मील पायेगा साथ ही श्रीमति शर्मा ने कहा कि ऐसे सभी परिवार के साथ हमारी कांग्रेस पार्टी खड़ी है उन्हें उनका हक दिलाने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि शिवराज सिंह मेरा हेलीपेड लेकर जाये और गांव गांव मे सर्वे करे वास्तविकता सामने आ जायेगी भाजपा के पदाधिकारी कहते है कि कांग्रेस पार्टी राजनिती कर रही है तो यदी जनता के हक की आवाज उठाना आपकी नजर मे राजनिती हे तो यही राजनिती हम बार बार करेंगे लेकिन हितग्राहीयों को उनका हक दिलवा कर रहेंगे, त्योहारों पर वस्त्र की जगह दुकानों पर कफन बिकें हे लेकिन मुखीया की नजर में प्रदेश में मौतो का आंकडा सामान्य है।

- Advertisement -

ट्रेंडिंग न्यूज़:

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here