राज्य चुने

HomeStateMaharashtraबधाई के पात्र हैं 'शांतिसेवा फाऊंडेशन' की टीम के लोग!

बधाई के पात्र हैं ‘शांतिसेवा फाऊंडेशन’ की टीम के लोग!

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

◾कष्टकारी समय में सैकडों लोगों के घरों में राशन पहूंचा कर तथा हजारों फूड्स पैकेट बांट कर मानवीय मूल्यों का उल्लेखनीय अनुशरण किया है!

- Advertisement -

▪️श्रवण शर्मा/भाईंदर▪️

भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई से सटे भाईंदर शहर की निवासी, साधारण परिवेश में पली-बढी नीलम तेली चश्मे की दुकान चलाते हुए शहर के सामाजिक एवं शैक्षणिक क्षेत्र में अहम योगदान दे रही हैं। स्ट्रीट चाईल्ड एज्युकेशन के लिए गत् कई वर्षों से प्रयासरत नीलम तेली के प्रयासों से आज झुग्गी-झोपडिय़ों तथा कंस्ट्रक्शन मजदूरों के 77 बच्चे शिक्षा प्राप्त करने के साथ-साथ अन्य सामाजिक/सांस्कृतिक/खेलकूद एवं धार्मिक कार्यक्रमों में शिरकत कर रहे हैं, जिससे उनके जीवन में एक बडा बदलाव आया है। यह जानकर आश्चर्य होगा कि, इन बच्चों को पढाने का इंतजाम नीलम तेली व उनकी टीम ने एक निर्माणाधीन इमारत में किया हुआ है। बच्चों की जरुरतों के लिए शहर के समाजसेवी व सह्दय लोग आगे आकर भी मदद करते हैं।

बधाई के पात्र हैं 'शांतिसेवा फाऊंडेशन' की टीम के लोग!
नीलम तेली ने सामाजिक कार्यों का सुनियमित संचालन करने के लिए ‘शांति सेवा फाऊंडेशन’ नामक एक संस्था की भी स्थापना की है। इस संस्था के उपाध्यक्ष राजेश पुनमिया, सचिव प्रकाश भाई, सहसचिव मेघना सेन के साथ संदीप लोहार, गणेश पाटिल, राहुल ओम वत्सल, श्रुत राज शाह व टीम के अन्य लोगों ने इस कोरोनाबंदी के दौरान लगभग 600 परिवारों को राशन देने के साथ ही शहर के नवघर पुलिस चौकी एरिया, नया नगर ब्रिज के नीचे, प्लैनेटेरियम एरिया, एसवी रोड, महेश्वरी भवन, अंबेडकरनगर इत्यादि ऐसे स्थानों पर, जहां बेसहारा लोग बसते हैं, उनको फूड पैकेट डिस्ट्रीब्यूट किया।

- Advertisement -

बधाई के पात्र हैं 'शांतिसेवा फाऊंडेशन' की टीम के लोग!
शांति सेवा फाऊंडेशन के कार्यों की सराहना करते हुए लोगों का कहना है कि, मध्यमवर्गीय परिवार की सामान्य महिला होकर भी नीलम तेली, घर-परिवार और चश्मे की दुकान चलाने के साथ-साथ सामाजिक व शैक्षणिक क्षेत्र में इतना सराहनीय योगदान दे रही हैं, यह एक अहम बात है।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

हमारे साथ जुड़े:

500FansLike
0FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

यह भी देखे:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here