लाइव ब्रेकिंग न्यूज़: 

RPF NEWS :आरपीएफ सिपाही और ट्रेन गार्ड ने बचायी यात्री की जान   |  RPF NEWS :आरपीएफ सिपाही और ट्रेन गार्ड ने बचायी यात्री की जान   |  Kachhona Hardoi News : दो पक्षो में जमकर चली लाठियां, दो लोग गंभीर रूप से घायल   |  Kachhona Hardoi News : दो पक्षो में जमकर चली लाठियां, दो लोग गंभीर रूप से घायल   |  Maudhaganj Kachhouna News माधौगंज कार्यकर्ताओं के द्वारा फूल मालाओं से प्रदेश अध्यक्ष जी का भव्य स्वागत किया गया   |  Maudhaganj Kachhouna News माधौगंज कार्यकर्ताओं के द्वारा फूल मालाओं से प्रदेश अध्यक्ष जी का भव्य स्वागत किया गया   |  Hardoi News : क्रिकेट टूर्नामेंट का हुआ समापन, अंतिम मुकाबले में मुसलमानाबाद टीम ने अपने विपक्षी टीम करलवां को 10 विकेट से हरा खिताब अपने नाम किया   |  Hardoi News : क्रिकेट टूर्नामेंट का हुआ समापन, अंतिम मुकाबले में मुसलमानाबाद टीम ने अपने विपक्षी टीम करलवां को 10 विकेट से हरा खिताब अपने नाम किया   |  Film Prithviraj का नाम बदले बिना फिल्म स्क्रीनपर दिखाना नामुमकिन: दिलीप राजपूत   |  Film Prithviraj का नाम बदले बिना फिल्म स्क्रीनपर दिखाना नामुमकिन: दिलीप राजपूत
Monday, June 14, 2021
HomeTrendingSurya Grahan 2021 : 48 साल बाद बन रहा है सूर्य ग्रहण...

Surya Grahan 2021 : 48 साल बाद बन रहा है सूर्य ग्रहण पे खास संयोग

Category:

लेटेस्ट न्यूज़:

विज्ञापन

साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण कई मायनों में खास है। तिथि काल गणना के अनुसार 148 साल बाद ऐसा मौका है कि शनि जयंती के दिन सूर्य ग्रहण लग रहा है। नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन नासा) के अनुसार साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण ‘रिंग ऑफ फॉयर’ के रूप में दिखाई देगा।

Surya Grahan क्या होता है?

सूर्य ग्रहण क्या होता है (What is solar eclipse?) जब चंद्रमा सूर्य को पूरी तरह ढंक लेता है तो इसे पूर्ण सूर्य ग्रहण कहते हैं. जब चंद्रमा सूर्य के कुछ भाग को ही ढंक पाता है तो इसे आंशिक सूर्य ग्रहण कहते हैं. वहीं चंद्रमा जब सूर्य को बीचोंबीच ढंक लेता है तो इसे वलयाकार सूर्य ग्रहण (Ring Of Fire) कहते हैं|

Surya Grahan 2021 Today Timing

- Advertisement -

148 साल बाद बन रहा अनोखा संयोग : साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण कई मायनों में खास है। तिथि काल गणना के अनुसार 148 साल बाद ऐसा मौका है कि शनि जयंती के दिन सूर्य ग्रहण लग रहा है। नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन नासा) के अनुसार साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण ‘रिंग ऑफ फॉयर’ के रूप में दिखाई देगा। नासा के मुताबिक कनाडा, ग्रीनलैंड और रूस के कई हिस्सों में इस ग्रहण को देखा जा सकता है। इसके साथ ही न्यूयॉर्क, वाशिंगटन डीसी, लंदन और टोरंटो जैसे देशों में आंशिक ग्रहण दिखाई देगा। ये ग्रहण 10 जून को दोपहर 1 बजकर 42 मिनट से शुरू होगा। जिसकी समाप्ति शाम 6 बजकर 41 मिनट पर होगी। भारत में कहां दिखेगा सूर्य ग्रहण : भारत में सूर्य ग्रहण हर जगह दिखाई नहीं देगा। लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में ही ग्रहण दिखाई देगा।

ट्रेंडिंग न्यूज़:

यह भी देखे: